Development Committees

प्रशासनिक एवं विकास समिति के उद्देश्य-

     महाविद्यालय में शासन/प्राचार्य के उद्देश्यों के अनुरूप शासन एवं प्रशासनिक सक्रियता को बनाये रखने के साथ विकास के नये सोपान अर्जित करना इस समिति के मूल उद्देश्य होंगे।

प्रशासनिक एवं विकास समिति के अधिकार एवं कर्तब्य

1. महाविद्यालय में कार्यरत कर्मचारियों को नियमित वेतन,एरियर, जी0पी0एफ0 के भुगतान एवं अन्य सेवा सम्बंधित शर्तों के अनुपालन को सुनिश्चित करना । ऐसा न हो पाने की दशा में सम्बंधित कर्मचारियो की जबाबदेही निश्चित करना एवं कर्तब्यहीनता के लिए दण्डित करने की संस्तुति करना।

2. महाविद्यालय में अनुशासन का वातावरण बनाये रखना एवं उसे बाधित करने वाले छात्र/छात्राओं को चिन्हित करना।

3. शिक्षको/शिक्षणेत्तर कर्मचारियों एवं छात्र/छात्राओं के हित में महाविद्यालय में विकास कार्य एवं सुन्दरीकरण करने की संस्तुति करना तथा सम्पादित कार्यो का सत्यापन करना।

4. छात्र/छात्राओं,अभिभावकों/प्राध्यापकों/कर्मचारियों की शिकायतो एवं समस्याओं का निराकरण करना।

5. महाविद्यालय हित में छात्र/छात्राओं के विरूद्ध दण्डात्मक संस्तुति करना।

6. महाविद्यालय के विभिन्न अध्ययन केन्द्रों/स्ववित्तपोषित योजना पाठ्यक्रम के संचालन एवं रख-रखाव को निर्धारित करते हुए पर्यवेक्षण करना तथा विकासात्मक संस्तुति करना।

7. शैक्षणिक एवं प्रशासनिक कैलेण्डर का प्रारूप तैयार करना/प्रोटोकाल की व्यवस्था तय करना।

8. आवश्यकतानुसार अन्य समितियों का गठन भी इसके द्वारा उप समिति के रूप में किया जा सकता है।


क्रमांक

नाम

पद

1

डॉ० दयानिधि सिंह यादव

समन्वयक

2

डॉ० उदय शंकर झा

सदस्य

3

डॉ० शमीम राईन

सदस्य

4

डॉ० इंद्रदेव सिंह

सदस्य

5

डॉ० पवन कुमार ओझा

सदस्य

Right and Duties of Development Committees

⇒ COLLEGE ANNUAL REPORT 2017-18
⇒ COLLEGE ANNUAL REPORT 2016-17