पाठ्यक्रम



स्नातक कला संकाय (B.A.)

बी०ए० का पाठ्यक्रम तीन वर्ष का है| प्रत्येक वर्ष बी० ए० प्रथम बी० ए०द्वितीय, बी० ए० तृतीय की परीक्षा विश्वविद्यालय द्वारा ली जाती है| तीनो भागों की परीक्षा उत्तीर्ण करने पर ही विश्वविद्यालय द्वारा स्नातक की उपाधि दी जाती है| बी०ए० प्रथम भाग में लिये गये वैकल्पिक विषय ही भाग दो एवं भाग तीन में लिये जा सकेंगे| बी० ए० भाग तीन में केवल दो विषय लिया जा सकेगे एवं प्रत्येक विषय के तीन – तीन प्रश्न पत्र होंगे| बी० ए० भाग एक में विषय परिवर्तन सामान्यत: नहीं होगा |

वैकल्पिक विषय

महाविद्यालय की समय सारिणी एवं व्यवस्था के आनुसार बी० ए० पाठ्यक्रम के लिए निम्न में से कुल तीन विषय लेने है | महाविद्यालय में पढाये जाने वाले विषय –
1. हिंदी
2. अंग्रेजी
3. संस्कृत
4. अर्थशास्त्र
5. राजनीति विज्ञान
6. प्राचीन इतिहास
7. समाजशास्त्र
8. मनोविज्ञान
9. रक्षा एवं स्न्नातेजिक अध्ययन
10. शारीरिकशिक्षा
11. भूगोल
12. गृह विज्ञान

वैकल्पिक विषयो में से प्रत्येक छात्र को बी० ए० प्रथम वर्ष प्रवेश लेते समय तीन विषयो का चयन निम्नांकित ध्यातब्य प्रतिबन्धो को दृष्टि में रख कर करना होगा |
1. हिंदी, संस्कृत और अंग्रेजी साहित्यिक विषयों में केवल दो ही विषय एक साथ लिए जा सकते  हैं | हिंदी के साथ अंग्रेजी अथवा संस्कृत लेना अनिवार्य है |
2. भूगोल एवं प्राचीन इतिहास विषय में से केवल एक विषय का चयन करना होगा |
3. केवल 02  प्रयोगात्मक विषय प्रवेश हेतु मिलेगा|
4. समाजशास्त्र एवं मनोविज्ञान विषय में से केवल एक विषय का चयन करना होगा|

स्नातक-शिक्षा संकाय (B.Ed.)

स्नातक शिक्षा संकाय का पाठ्यक्रम महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ,वाराणसी के पाठ्यक्रम के अनुसार विषय विशेषज्ञों की उपलब्धता के आधार पर निर्धारित किया गया है |

स्नातकोत्तर (MA)

महाविद्यालय में स्नातकोत्तर स्तर पर महात्मा गाँधी काशी विद्यापीठ, वाराणसी के नियमों/परिनियमों के अनुसार स्ववित्तपोषित व्यवस्था में भूगोल, राजनीति विज्ञान, समाजशास्त्र, अर्थशास्त्र, अंग्रेजी एवं हिंदी विषयो का पठन–पाठन कराया जाता है |